UPI के जरिए Whatsapp यूजर्स जल्द कर पाएंगें मानी ट्रांसफर

UPI मोबाइल प्लेटफॉर्म के जरिए दो बैंकों के बीच इंस्टेंट फंड ट्रांसफर करने की सुविधा देता है। इसे नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने लॉन्च किया था। यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (UPI) के जरिए और व्हाट्सएप यूजर्स के अनुभव को बढ़ाने के लिए इंस्टेंट मनी ट्रांसफर फीचर जारी करने की तैयारी में है Whatsapp. व्हाट्सएप जल्द ही यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (UPI) के जरिए इंस्टेंट मनी ट्रांसफर फीचर जारी कर सकता है। यह फीचर व्हाट्सएप के नए बीटा अपडेट में देखा गया है। ब्लॉग वेबसाइट WABetaInfo के अनुसार, व्हाट्सएप UPI सिस्टम के जरिए बैंक-टू-बैंक ट्रांसफर की सर्विस मुहैया कराएगा। व्हाट्सएप के नए वर्जन 2.17.295 के तहत इस सर्विस का जिक्र किया गया है। एंड्रायड के लिए आधिकारिक व्हाट्सएप पेमेंट सेक्शन अभी तैयार किया जा रहा है। ब्लॉग में यह भी बताया कि इस सर्विस को इस्तेमाल करने के लिए यूजर्स को व्हाट्सएप पेमेंट और बैंक की नियम व शर्तें स्वीकार करनी होंगी। 200 मिलियन एक्टिव यूजर्स के साथ व्हाट्सएप UPI सर्विस को एप में जोड़ने जा रही हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो व्हाट्सएप NPCI और UPI के जरिए भुगतान लेने वाले बैंक्स के साथ बातचीत कर रही है। WeChat और हाइक मैसेंजर जैसे मोबाइल मैसेजिंग प्लेटफॉर्म्स पहले से ही UPI आधारित पेमेंट सर्विस मुहैया करा रहे हैं। NPCI ने जुलाई में बताया था कि UPI ने जून 2017 के आखिरी तक 10 मिलियन ट्रांजेक्शन का आंकड़ा पार किया था। यूपीआई ट्रांजेक्शन सिस्टम को 21 बैंकों के साथ अगस्त 2016 में लॉन्च किया गया था। अब इसके साथ 50 बैंक जुड़ गए हैं। बताया जा रहा है कि 22 फीसद ट्रांजेक्शन मर्चेंट आधारित हैं जिसमें तेजी से बढ़ोतरी हो रही है।

 

mariah carey without makeup