कौन है बाबा राम रहीम और कैसे बना संत

गुरमीत राम रहीम सिंह अपने माता-पिता की इकलौती संतान है। गुरमीत राम रहीम सिंह का जन्म 15 अगस्त, 1967 को राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले के गुरूसर मोदिया में जट सिख परिवार में हुआ था। डेरा प्रमुख शाह सतनाम सिंह ने 1990 में मगहर सिंह और नसीब कौर के बेटे गुरमीत राम रहीम को डेरे की विरासत सौंपी। सतनाम सिंह ने ही सात साल की उम्र में गुरमीत राम रहीम नाम दिया था। 23 सितंबर, 1990 को शाह सतनाम सिंह ने देशभर से अनुयायियों का सत्संग बुलाया और गुरमीत राम रहीम सिंह को अपना उत्तराधिकारी घोषित कर दिया था। राम रहीम की बेटी बठिंडा के पूर्व एमएलए की बहू है, राम रहीम की 3 बेटियां और एक बेटा है। इनमें एक बेटी गोद ली है। गुरमीत राम रहीम के बेटे की शादी बठिंडा के पूर्व एमएलए हरमिंदर सिंह जस्सी की बेटी से हुई है। इन सभी बच्चों की पढ़ाई डेरे की ओर से चल रहे स्कूल में हुई है। राम रहीम के दो दामाद रूहेमीत और डॉ. शम्मेमीत है। राम रहीम की पत्नी का कोई फोटो नहीं है। सिरसा में लगभग 700 एकड़ खेती की जमीन। तीन अस्पताल और एक इंटरनेशनल आई बैंक भी चलाता है। गैस स्टेशन, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, दुनिया में करीब 250 आश्रम और करोड़ों समर्थक होने का दावा। 2010-11 में डेरा की कुल वार्षिक इनकम 16 करोड़ रुपए थी। 2011-12 में बढ़कर यह 20 करोड़ रुपए हो गई। 2012-13 में कुल इनकम 29 करोड़ रुपए थी। डेरा सच्चा सौदा और इससे संबंधित अन्य संगठनों को इनकम टैक्स कानून 1961 की धारा 10(23) के तहत टैक्स से छूट मिली हुई है। कोर्ट ने राम रहीम को रेप के मामले में 19 साल बाद दोषी करार दिया।

mariah carey without makeup